उत्सव के रंग...

भारतीय संस्कृति में उत्सवों और त्यौहारों का आदि काल से ही महत्व रहा है। हर संस्कार को एक उत्सव का रूप देकर उसकी सामाजिक स्वीकार्यता को स्थापित करना भारतीय लोक संस्कृति की सबसे बड़ी विशेषता रही है। भारत में उत्सव व त्यौहारों का सम्बन्ध किसी जाति, धर्म, भाषा या क्षेत्र से न होकर समभाव से है और हर त्यौहार के पीछे एक ही भावना छिपी होती है- मानवीय गरिमा को समृद्ध करना। "उत्सव के रंग" ब्लॉग का उद्देश्य पर्व-त्यौहार, संस्कृति और उसके लोकरंजक तत्वों को पेश करने के साथ-साथ इनमें निहित जीवन-मूल्यों का अहसास कराना है. आज त्यौहारों की भावना गौड़ हो गई है, दिखावटीपन प्रमुख हो गया है. ऐसे में जरुरत है कि हम अपनी उत्सवी परंपरा की मूल भावनाओं की ओर लौटें. इन पारंपरिक त्यौहारों के अलावा आजकल हर दिन कोई न कोई 'डे' मनाया जाता है. हमारी कोशिश होगी कि ऐसे विशिष्ट दिवसों के बारे में भी इस ब्लॉग पर जानकारी दी जा सके. इस उत्सवी परंपरा में गद्य व पद्य दोनों तरह की रचनाएँ शामिल होंगीं !- कृष्ण कुमार-आकांक्षा यादव (ब्लॉग संयोजक)

गुरुवार, 2 जुलाई 2009

जीवन वृत्त : आकांक्षा यादव


आकांक्षा यादव: 30 जुलाई, 1982 को सैदपुर (गाजीपुर, उ.प्र.) में जन्म। शिक्षा-एम. ए. (संस्कृत)। कालेज में प्रवक्ता के बाद साहित्य,लेखन और ब्लागिंग के क्षेत्र में प्रवृत्त। रचनात्मक अध्ययन व लेखन विशेषकर नारी विमर्श, बाल विमर्श व सामाजिक समस्याओं सम्बन्धी विषयों में गहरी रूचि। अब तक 2 कृतियाँ प्रकाशित- चाँद पर पानी (बाल-गीत संग्रह-2012) एवं क्रांति-यज्ञ: 1857-1947 की गाथा(संपादित, 2007)।

पहली कविता दिसम्बर 2005 में कादम्बिनी में एवं तत्पश्चात पुनर्नवा, दैनिक जागरण में प्रकाशित। फिलहाल कविताओं के साथ-साथ लेख एवं लघुकथाओं का सृजन। देश-विदेश से प्रकाशित शताधिक प्रतिष्ठित पत्र-पत्रिकाओं- इण्डिया टुडे, कादम्बिनी, नवनीत, साहित्य अमृत, वर्तमान साहित्य, अक्षर पर्व, अक्षर शिल्पी, युगतेवर, अहा जिंदगी, आजकल, उत्तर प्रदेश, मधुमती, हरिगंधा, पंजाब सौरभ, हिमप्रस्थ, दैनिक जागरण, जनसत्ता, अमर उजाला, राष्ट्रीय सहारा, स्वतंत्र भारत, दैनिक आज, डेली न्यूज एक्टिविस्ट, राजस्थान पत्रिका, गृह शोभा, वीणा, हिन्दुस्तानी जबान, इंडिया न्यूज, हिन्दी चेतना (कनाडा), वसंत (मारीशस), भारत-एशियाई साहित्य, शुभ तारिका, सरस्वती सुमन, समय के साखी, राष्ट्रधर्म, हरसिंगार, नव निकष, रचना उत्सव, समकालीन अभिव्यक्ति, संरचना, प्रगतिशील आकल्प, पांडुलिपि, उदंती, अलाव, शिवम, नित्य नूतन, संकल्य, गोलकोण्डा दर्पण, द्वीप लहरी, अरावली उदघोष, युद्धरत आम आदमी, हाशिये की आवाज, नारी अस्मिता, चेतांशी, अहल्या, बाल भारती, बाल वाणी, बाल वाटिका, बाल प्रहरी, बाल साहित्य समीक्षा, देव पुत्र, अनुराग इत्यादि में रचनाएँ प्रकाशित। दर्जनाधिक पुस्तकों/संकलनों में रचनाएँ प्रकाशित। आकाशवाणी से समय-समय पर रचनाएँ, वार्ता इत्यादि का प्रसारण। व्यक्तित्व-कृतित्व पर ‘बाल साहित्य समीक्षा‘ (कानपुर) द्वारा विशेषांक जारी।

 विभिन्न वेब पत्रिकाओं, ब्लॉग- अनुभूति, सृजनगाथा, साहित्यकुंज, साहित्यशिल्पी, वेब दुनिया हिंदी, रचनाकार, ह्रिन्द युग्म, हिंदीनेस्ट, हिंदी मीडिया, हिंदी गौरव, लघुकथा डाट काम, उदंती डाट काम, युग जमाना, परिकल्पना, नव्या, कलायन, स्वर्गविभा, हमारी वाणी, स्वतंत्र आवाज डाट काम, कवि मंच, इत्यादि पर रचनाओं का निरंतर प्रकाशन। विकिपीडिया पर भी तमाम रचनाओं के लिंक उपलब्ध।

व्यक्तिगत रूप से ‘शब्द-शिखर’ और युगल रूप में ‘बाल-दुनिया’, ‘सप्तरंगी प्रेम’ व ‘उत्सव के रंग’ ब्लॉग का संचालन। जीवन-साथी कृष्ण कुमार यादव और पुत्री अक्षिता (पाखी) भी ब्लागिंग में सक्रिय. बिटिया अक्षिता को वर्ष 2010 में परिकल्पना समूह द्वारा 'श्रेष्ठ नन्हीं ब्लागर' और वर्ष 2011 में कला और ब्लागिंग के क्षेत्र में उत्कृष्ट उपलब्धि हेतु भारत सरकार द्वारा सबसे कम उम्र में 'राष्ट्रीय बाल पुरस्कार-2011' प्राप्त कर हिंदी ब्लागिंग के क्षेत्र में प्रथम राजकीय सम्मान पाने का गौरव प्राप्त.

उ.प्र. के मुख्यमंत्री द्वारा जी-न्यूज़ का ’’अवध सम्मान’’, परिकल्पना समूह द्वारा ’’दशक के श्रेष्ठ हिन्दी ब्लागर दम्पति’’ सम्मान, विक्रमशिला हिन्दी विद्यापीठ, भागलपुर, बिहार द्वारा डाक्टरेट (विद्यावाचस्पति) की मानद उपाधि, भारतीय दलित साहित्य अकादमी द्वारा ‘डा. अम्बेडकर फेलोशिप राष्ट्रीय सम्मान‘ व ‘‘वीरांगना सावित्रीबाई फुले फेलोशिप सम्मान‘, राष्ट्रीय राजभाषा पीठ इलाहाबाद द्वारा ’भारती ज्योति’, साहित्य मंडल, श्रीनाथद्वारा, राजस्थान द्वारा ”हिंदी भाषा भूषण”, ‘‘एस.एम.एस.‘‘ कविता पर प्रभात प्रकाशन, नई दिल्ली द्वारा पुरस्कार सहित विभिन्न प्रतिष्ठित सामाजिक-साहित्यिक संस्थाओं द्वारा विशिष्ट कृतित्व, रचनाधर्मिता और सतत् साहित्य सृजनशीलता हेतु दर्जनाधिक सम्मान और मानद उपाधियाँ प्राप्त।


ब्लॉग:
http://shabdshikhar.blogspot.in/(शब्द-शिखर)
http://saptrangiprem.blogspot.in/(सप्तरंगीप्रेम)
http://balduniya.blogspot.in/ (बाल-दुनिया)
http://utsavkerang.blogspot.in/(उत्सवके रंग)

 
(समय-समय पर अप-डेटेड)


 

4 टिप्‍पणियां:

Amit Kumar Yadav ने कहा…

बेहतरीन प्रोफाइल....आपके नेतृतव में यह ब्लॉग नए आयाम छुए, इसी आशा के साथ.

Unknown ने कहा…

...इस ब्लॉग को तो बहुत पहले आरंभ हो जाना चाहिए था. सुन्दर प्रयास.

Bhanwar Singh ने कहा…

Akanksha ji ke bare men vistar se jankar achha laga...badhai.

Unknown ने कहा…

Wynn Slots for Android and iOS - Wooricasinos
A free app for slot machines from WRI Holdings Limited that lets you play the wooricasinos.info popular games, such kadangpintar as free worrione video slots, herzamanindir.com/ table games and live febcasino.com casino